Bharat Band One Hundred And Fifty Million Business Affected – भारत बंदः बैंक शाखाओं पर लटके ताले, सौ करोड़ का कारोबार प्रभावित

0
11

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कासगंज
Updated Thu, 09 Jan 2020 10:27 AM IST

भारत बंद के दौरान बैंक पर लगा ताला
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

बैंकों के विलय के विरोध सहित अन्य मांगों को लेकर बुधवार को लिपिक संवर्ग के कर्मियों ने हड़ताल रखी। हड़ताल के चलते कामकाज प्रभावित रहा। बैंक शाखाओं में लटके तालों से ग्राहकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। लगभग सौ करोड़ रुपये के कारोबार प्रभावित होने का अनुमान है। 

जिले में सौ बैंक शाखाएं हैं। इन सभी बैंक शाखाओं के लिपिक संवर्ग के कर्मी अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर चले गए। लिपिक वर्ग के हड़ताल पर चले जाने का बैंकों के कामकाज पर काफी असर रहा। बैंक शाखाओं ने मुख्य गेट पर ताले लटका दिए जिससे ग्राहक बैंक में न आ सकें।

अधिकारी वर्ग से जुड़े कर्मी बैंक के अंदर कामकाज निपटाने में लगे रहे। जिससे ऐसी बैंकों में पहुंचने वाले ग्राहकों को लेनदेन में समस्या हो गई। लोगों को बिना लेनदेन किए ही मायूस होकर वापस लौटना पड़ा। जिससे बैंकों के कारोबार पर असर पड़ा। 
एटीएम भी दे गए दगा
हड़ताल का असर बैंक शाखाओं के एटीएम पर भी देखा गया। एटीएम में धन खत्म हो जाने के बाद ग्राहकों को काफी दिक्कत हो गई। कार्ड धारक धन निकासी के लिए एक एटीएम से दूसरे एटीएम की दौड़ लगाते रहे, लेकिन धन की निकासी नहीं हो सकी। 

ऑन लाइन ट्रांजेक्शन आदि तक नहीं हो सके। 
बैंक शाखाओं के लिपिक वर्ग के हड़ताल पर चले जाने से ऑन लाइन ट्रांजेक्शन सेवा भी प्रभावित हो गई। कारोबारी आरटीजेएस, नेफ्ट बैंकिंग नहीं कर सके। जिससे उनको दिक्कतों का सामना करना पड़ा। बैंकों के लिपिक संवर्ग के कर्मियों ने अपनी हड़ताल रखी। जबकि अधिकारी संवर्ग हड़ताल से दूर रहा, जिससें बैंकों के कामकाज पर असर पड़ा। – महेश प्रकाश एलडीएम

 

बैंकों के विलय के विरोध सहित अन्य मांगों को लेकर बुधवार को लिपिक संवर्ग के कर्मियों ने हड़ताल रखी। हड़ताल के चलते कामकाज प्रभावित रहा। बैंक शाखाओं में लटके तालों से ग्राहकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। लगभग सौ करोड़ रुपये के कारोबार प्रभावित होने का अनुमान है। 

जिले में सौ बैंक शाखाएं हैं। इन सभी बैंक शाखाओं के लिपिक संवर्ग के कर्मी अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर चले गए। लिपिक वर्ग के हड़ताल पर चले जाने का बैंकों के कामकाज पर काफी असर रहा। बैंक शाखाओं ने मुख्य गेट पर ताले लटका दिए जिससे ग्राहक बैंक में न आ सकें।

अधिकारी वर्ग से जुड़े कर्मी बैंक के अंदर कामकाज निपटाने में लगे रहे। जिससे ऐसी बैंकों में पहुंचने वाले ग्राहकों को लेनदेन में समस्या हो गई। लोगों को बिना लेनदेन किए ही मायूस होकर वापस लौटना पड़ा। जिससे बैंकों के कारोबार पर असर पड़ा। 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here